Home > मुख्य ख़बरें > CM योगी बोले- भू-माफिया से जमीन खाली करवाकर विकसित करवा रहे खेल मैदान

CM योगी बोले- भू-माफिया से जमीन खाली करवाकर विकसित करवा रहे खेल मैदान

लखनऊ: विधान परिषद में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार खेल और उसके लिए पर्याप्त मैदान उपलब्ध कराने के मद्देनजर सरकार ने किसी भी प्रकार के संरक्षण में हुए कब्जे और दबंगों व भूमाफियाओं के हाथों में फंसी 67 हजार हेक्टेअर भूमि को खाली कराने का काम किया है।

Bharti News एक ऑनलाइन News चैनल है, जो आपको ताज़ा खबरों से अपडेट रखता है. मनोरंजक और रोचक खबरों के लिए Subscribe करें Bharti News का यूट्यूब चैनल.

Also watch - खुलासा : कॉन्ग्रेस और भारत में दंगे करने वाली ताकतों के कनेक्शन का पर्दाफ़ाश

नोट : सेकुलरिज्म के चक्कर में टीवी मीडिया आपसे कई महत्वपूर्ण ख़बरें छिपा लेता है, फेसबुक और ट्विटर भी अब वामपंथी ताकतों के गुलाम बनकर राष्ट्रवादी ख़बरें आप तक नहीं पहुंचने दे रहे. ऐसे में यदि आप सच्ची व् निष्पक्ष ख़बरें पढ़ना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करके Bharti News App अपने फ़ोन में इनस्टॉल करें.

प्रश्न काल के दौरान सदन में मौजूद मुख्यमंत्री ने शिक्षक सदस्य सुरेश कुमार त्रिपाठी, कांग्रेस के दीपक सिंह और सुनील साजन के विभिन्न सवालों पर खेल मंत्री द्वारा दिये जा रहे जवाब पर हस्तक्षेप करते हुए कहा कि हजारों ग्राम पंचायतों में खेल के मैदान के लिए जगह आरक्षित कर ली गयी है और इन मैदानों का उपयोग गांवों में सार्वजनिक उपयोग के लिए भी किया जा सकेगा।

खेल के मैदान के लिए किए जा रहे प्रबंध

उन्होंने कहा सभी ग्राम पंचायत और ब्लाक में प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों के पास खेल के मैदान उपलब्ध हो सकें इसका प्रबन्ध किया गया है। इसके लिए जमीनों को इन्टरचेन्ज भी किया गया है। हजारों युवक मंगल दल और महिला मंगल दलों का गठन हो चुका है। इन्हें स्पोर्ट्स किट दी जा रही है ताकि खेलों के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़े। इसके अलावा सदन में कोरोना महामारी के दौरान हुए उपकरणों की खरीद में हुयी धांधली, किसानों की आय दोगुनी करने, गन्ना किसानों के बकाया भुगतान, लखनऊ में बस स्टेशन के निकट डाॅ अम्बेडकर व सुपर्श सुदर्शन की प्रतिमा को हटाये जाने का मद्दा भी गरम रहा।

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने सपा सदस्य परवेज अली और राजेश यादव के सवाल पर कहा कि सरकार ने 55 लाख टन लक्ष्य के सापेक्ष 67 लाख टन धान की खरीद की है। पिछली सरकारों के मुकाबले हमारी सरकार किसानों से अधिक धान की खरीद कर रही है। नये कृषि कानूनों से किसानों का कोई अहित नहीं होगा। किसान अपनी उपज को राज्य के अलावा कहीं भी बेंच सकेंगे। ई-ट्रेडिंग के जरिये किसानों को अपनी उपज को बेंचने की सुविधा होगी। केन्द्र सरकार की नीति के मुताबित ही राज्य सरकार किसानों से एमएसपी पर खरीद करती रहेगी।

शून्य काल में सपा सदस्य सुनील साजन, शतरूद्र प्रकाश, राम सुन्दर दास निषाद ने कोरोना महामारी में योगी सरकार द्वारा की गयी व्यवस्थाओं में खामियों के साथ ही पीपीई किट, थर्मोमीटर और आॅक्सीमीटर की खरीद में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार के आरोप का मामला कार्य स्थगन के रूप में उठाया। नेता विपक्ष अहमद हसन ने भी इनका समर्थन किया। शतरूद्र प्रकाश ने आॅनलाइन कार्यवाही में हिस्सा लिया।

विपक्ष के आरोप पूरी तरह से सही नहीं

स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा कि विपक्ष के आरोप पूरी तरह से सही नहीं है। कुछ मामलों में गडबड़ी पायी गयी थी। जिसके लिए सरकार ने एसआईटी बनायी है। रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। उन्होंने कहा राज्य में 44 आरटीपीसीआर लैब है। 39 मशीने ट्रू-नेट व अन्य जांच उपकरण है। प्रतिदिन दो लाख टेस्ट किये जा रहे थे। नेता सदन डा0 दिनेश शर्मा ने कहा पूरी दुनिया में हमारे कोरोना मैनेजमेन्ट को सराहा गया। हमारे मैनेजमेन्ट का ही नतीजा रहा कि उत्तर प्रदेश में मृत्युदर काफी कम रही। सरकार के जवाब से असन्तुष्ट सपा सदस्यों ने सदन से वाकआउट किया।

बसपा के दिनेश चन्द्रा, अतर सिंह राव, सुरेश कुमार कश्यप, महमूद अली एवं भीमराव अम्बेडकर ने राजधानी लखनऊ के आलमबाग बस स्टेशन पर स्थित बाबा साहब डाॅ भीमराव अम्बेडकर और महर्षि स्वपच सुदर्शन जी की प्रतिमा को अपने मूल स्थान से हटाकर नाले पर चबूतरा बनकार स्थापित किये जाने का मामला कार्य स्थगन के रूप में उठाया।

मोदी सरकार ने पंचतीर्थ स्थापित किये

परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने कहा कि डाॅ अम्बेडकर का सरकार पूरा सम्मान करती है। वे महापुरूष हैं। मोदी सरकार ने पंचतीर्थ स्थापित किये हैं। बस स्टेशन पर निमार्ण कार्य में आ रही दिक्कतों के कारण मूर्तियों को मंदिर से जुड़ी समिति के सदस्यों से बातचीत करने के बाद दूसरे स्थान पर लगाया गया है। ऐसा पहले भी होता रहा है।

रिपोर्ट: श्रीधर अग्निहोत्री

हमें आप जैसे राष्ट्रवादी लोगों के सहयोग की जरुरत है, जो "राष्ट्र प्रथम" पत्रकारिता में अपना सहयोग देना चाहते हों. देश या विदेश, कहीं से भी सहायता राशि देने के लिए नीचे दिए बटन पर क्लिक करें.

App download

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुडी सभी ख़बरें सीधे अपने मोबाईल पर पाने के लिए Bharti News App डाउनलोड करें.

YouTube चैनल सब्स्क्राइब करें

Also watch - भारत के इन 5 महा-प्रोजेक्ट्स को देख हैरान रह जाएंगे आप, Top 5 Upcoming Mega Projects in INDIA 2020.