Home > मुख्य ख़बरें > महाराष्ट्र से सावधान: पड़ोसी राज्य ने देखादेखी लगाया कर्फ्यू, यहां धारा 144 लागू

महाराष्ट्र से सावधान: पड़ोसी राज्य ने देखादेखी लगाया कर्फ्यू, यहां धारा 144 लागू

भोपाल: कोरोना वायरस के दोबारा तेजी से हो रहे प्रसार को लेकर कई राज्यों ने अलर्ट जारी कर दिया है। केरल और महाराष्ट्र की स्थिति सबसे खराब है। मात्र केरल से प्रतिदिन देश के कुछ संक्रमण मामलों में से 39 फीसदी केस आ रहे हैं, वहीं महाराष्ट्र में ये आकंड़ा 38 प्रतिशत हैं। महाराष्ट्र में तो कई जिलों में नाइट कर्फ्यू और कुछ प्रतिबंध लगाए गए। वहीं महाराष्ट्र से फ़ैल रहे संक्रमण के मद्देनजर पड़ोसी राज्य एमपी भी अलर्ट पर हो गया और सीमा से सटे जिले में कर्फ्यू का एलान कर दिया।

Bharti News एक ऑनलाइन News चैनल है, जो आपको ताज़ा खबरों से अपडेट रखता है. मनोरंजक और रोचक खबरों के लिए Subscribe करें Bharti News का यूट्यूब चैनल.

Also watch - खुलासा : कॉन्ग्रेस और भारत में दंगे करने वाली ताकतों के कनेक्शन का पर्दाफ़ाश

नोट : सेकुलरिज्म के चक्कर में टीवी मीडिया आपसे कई महत्वपूर्ण ख़बरें छिपा लेता है, फेसबुक और ट्विटर भी अब वामपंथी ताकतों के गुलाम बनकर राष्ट्रवादी ख़बरें आप तक नहीं पहुंचने दे रहे. ऐसे में यदि आप सच्ची व् निष्पक्ष ख़बरें पढ़ना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करके Bharti News App अपने फ़ोन में इनस्टॉल करें.

महाराष्ट्र के पांच जिलों में आंशिक प्रतिबंध

दरअसल, कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने एहतियातन राज्य के पांच जिलों में रविवार को आंशिक प्रतिबंध लगाए गए। जिनमें अमरावती, अकोला, बुलढाणा, वाशिम और यवतमाल शामिल है। इन सभी जिलों में 7 दिनों का आंशिक लॉकडाउन पालन किया जाएगा। लेकिन जरूरी सेवाओं पर ये लागू नहीं किया जाएगा।

ये भी पढ़ेँ- 

महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश की बार्डर वाले जिले बालाघाट में नाइट कर्फ्यू

वहीं महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश की सीमा से लगते जिले बालाघाट में भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। मध्य प्रदेश बालाघाट जिला कलेक्ट्रेट ने इस बाबत सरकार को पत्र लिख कर कर्फ्यू लगाने को लेकर सलाह दी थीं। जिसके बाद कोविड को लेकर प्रतिबंध का फैसला लिया गया। बालाघाट जिले में कोविड कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। वहीं जिला मजिस्ट्रेट ने कोरोना से बचाव को लेकर धारा 144 भी लागू की है।

बालाघाट में धारा 144  लागू, आदेश का पालन न होने पर कार्रवाई

बालाघाट के जिलाधिकारी दीपक आर्य ने आज आदेश जारी कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते यह फैसला लिया गया है। इस दौरान लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और मास्क पहनने के लिए कहा गया है। कोरोना गाइडलाइन के तहत सार्वजनिक कार्यक्रम आदि के लिए प्रशासन से मंजूरी लेना अनिवार्य होगा। वहीं आदेश का पालन न किये जाने पर कार्रवाई की भी चेतावनी दी गयी।

ये भी पढ़ेँ- 

बता दें कि पूरे देश में से कोरोना के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में आ रहे हैं। सिर्फ इस हफ्ते ही मामलों में 81 फीसदी की वृद्धि देखी गई। वहीं, भारत में बीते हफ्ते तक औसतन (7 दिन के लिए) कोरोना मामलों की संख्या 11,430 थी जो इस हफ्ते के आंकड़ों के बाद बढ़कर 12,770 हो गया।

हमें आप जैसे राष्ट्रवादी लोगों के सहयोग की जरुरत है, जो "राष्ट्र प्रथम" पत्रकारिता में अपना सहयोग देना चाहते हों. देश या विदेश, कहीं से भी सहायता राशि देने के लिए नीचे दिए बटन पर क्लिक करें.

App download

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुडी सभी ख़बरें सीधे अपने मोबाईल पर पाने के लिए Bharti News App डाउनलोड करें.

YouTube चैनल सब्स्क्राइब करें

Also watch - भारत के इन 5 महा-प्रोजेक्ट्स को देख हैरान रह जाएंगे आप, Top 5 Upcoming Mega Projects in INDIA 2020.